अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेसएक्स के कैप्सूल में समुद्र में उतारने की तैयारी कर रहा है NASA

केप केनवरल. स्पेसएक्स और नासा की 45 वर्ष में पहली बार किसी अंतरिक्ष यात्री को सीधे समुद्र में उतारने की योजना है और ऐसी ही वापसी की तैयारी कर रहे अमेरिका के 2 अंतरिक्ष यात्रियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने सी-सिक बैग तैयार कर लिए हैं। सी सिकनेस दरअसल पानी में यात्रा के दौरान मितली, उल्टी और चक्कर आने जैसी समस्याओं को कहते हैं और ऐसे हालात में सी सिक बैग का इस्तेमाल किया जा सकता है।

स्पेसएक्स और नासा की रविवार दोपहर डाउग हर्ले और बॉब बेनकेन को कंपनी के ड्रैगन कैप्सूल में मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की योजना है। फ्लाइट कंट्रोलर्स चक्रवात इसाइएस पर करीब से नजर रख रहे हैं जिसके फ्लोरिडा के पूर्वी तट पर आने की आशंका है और जहां उन्हें उतारने की योजना है, वह स्थान फ्लोरिडा के करीब है।हर्ले ने कहा कि अगर वह और बेनकेन लहरों में बहते हुए बीमार पड़ गए तो यह चालक दल के लिए कोई नई बात नहीं होगी। इससे पहले 1970 में स्काईलैब से आने वाले अंतरिक्ष यात्री भी समुद्र में उतरने के बाद बीमार पड़ गए थे। हर्ले ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से चालक दल के अंतिम संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पानी में लैंड करने पर बीमार महसूस करना साधारण बात है।

यह स्पेसएक्स का अंतरिक्ष यात्रियों को सीधे समुद्र में लैंड कराने का पहला मौका है। लैंडिंग के साथ ही 30 मई को नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से शुरू हुई 2 माह की टेस्ट फ्लाइट का समापन हो जाएगा। करीब 1 दशक के बाद अमेरिका से किसी चालक दल की यह पहली उड़ान थी। अंतरिक्ष यात्रियों को ले जाने वाला कैप्सूल 31 मई से अंतरिक्ष स्टेशन पर है।हर्ले ने कहा कि ड्रैगन के आपातकाल तथा अन्य उपकरणों की ठीक तरह से जांच कर ली गई है। लांच और गंतव्य तक पहुंचने में कोई बाधा नहीं हुई तो हम उम्मीद कर रहे हैं कि सागर में उतरने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी। ड्रैगन कैप्सूल करीब 1 घंटे तक पानी में रहेगा और इसके बाद इसे एक क्रेन के जरिए निकालकर स्पेसएक्स रिकवरी शिप पर रखा जाएगा। इस दौरान फ्लाइट सर्जन और रिकवरी दल के सदस्य मौजूद रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *