tiktok may return in India

डबल अटैक ऑन चीनः अमेरिका में सरकारी कर्मचारी नहीं चला सकेंगे टिकटॉक, 2500 यू-ट्यूब अकाउंट बैन

वॉशिगटन. अमेरिका ने सरकारी कर्मचारियों की ओर से टिकटोक का इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी है। दूसरी ओर यूट्यूब ने भी फेक न्यूज की आशंका में 2500 चीनी यूट्यूब अकाउंट पर रोक लगा दी है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने टिकटॉक और वीचैट जैसी लोकप्रिय चीनी ऐप्लीकेशन पर प्रतिबंध लगाने के कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए और उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा एवं देश की अर्थव्यवस्था के लिए खतरा बताया।अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने टिकटॉक को धमकी दी है कि यदि 15 सितंबर तक यूएस के ऑपरेशंस उसने अमेरिकन कंपनी को नहीं बेचे तो वह देश में इस ऐप पर प्रतिबंध लगा देंगे।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा है कि ट्रंप सरकार अमेरिकी मोबाइल कैरियर्स और फोन निर्माताओं के ऐप स्टोरों में अविश्‍वसनीय चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाना चाहती है। उन्होंने कहा कि चीन में स्थित पैरेंट कंपनियों वाले टिकटॉक, वीचैट जैसे अन्‍य एप्लिकेशन अमेरिकी नागरिकों के निजी डेटा के लिए खतरा हैं। गूगल ने भी बड़ा कदम उठाते हुए चीन से जुड़े करीब 2,500 से ज्यादा यूट्यूब चैनल्स डिलीट कर दिए हैं। गूगल ने इन चैनल्स को भ्रामक जानकारी फैलाने के चलते हटाया है।

उल्लेखनीय है कि भारत टिकटॉक और वीचैट पर प्रतिबंध लगाने वाला पहला देश है। भारत ने राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी चिंताओं का हवाला देते हुए यह प्रतिबंध लगाया था। भारत ने 106 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। भारत के इस कदम का ट्रम्प प्रशासन और अमेरिकी सांसदों ने स्वागत किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *