राम मंदिर के लिए उपवास : 81 साल की उर्मिला ने 28 साल से अन्न नहीं खाया

5 अगस्त को अयोध्या में मंदिर की नींव रखने के साथ संकल्प पूरा होगा

नई दिल्ली. अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखने के साथ ही मध्य प्रदेश के जबलपुर में रहने वाली 81 साल की महिला की तपस्या पूरी हो जाएगी। 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचा ढहाए जाने के बाद दंगे हुए तो उन्होंने संकल्प लिया था कि राम मंदिर की नींव रखे जाने तक वे अन्न ग्रहण नहीं करेंगी। तब से ही वे फलाहार के साथ राम नाम जपते हुए उपवास पर हैं। जबलपुर के विजय नगर में रहने वाली उर्मिला ने जब उपवास शुरू किया था, तब उनकी उम्र 53 वर्ष थी।

अयोध्या में 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर की नींव रखेंगे। उर्मिला उस दिन दिनभर घर में राम नाम का जाप करेंगी। वे चाहती हैं कि अयोध्या जाकर राम लला के दर्शन करने के बाद ही अन्न ग्रहण करें। उनके परिवार वाले समझा रहे हैं कि कोरोना की वजह से अयोध्या के कार्यक्रम में सिर्फ आमंत्रित लोग ही जा सकते हैं। ऐसे में उन्हें घर पर ही उपवास तोड़ लेना चाहिए, लेकिन वे इसके लिए अभी राजी नहीं हुई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *