India Forces are studying for future war preparation

सेना ड्रोन स्वार्म से लेकर रोबोटिक्स, लेजर एआई औऱ एल्गोरिद्मिक वॉरफेयर तक की स्टडी कर रही भारतीय सेना

फ्यूचर वॉर के लिए तैयार हो रहा भारत

नई दिल्‍ली. चीन बॉर्डर पर तनाव के बीच भारत को पांच राफेल लड़ाकू विमान (Rafale fighter jets) मिल चुके हैं। भारत मगर चीन की तकनीकी क्षमता को समझते हुए हुए भारतीय सेना सिर्फ पारंपरिक युद्ध के तौर-तरीकों पर ही नहीं, भविष्य की युद्ध रणनीतियों पर भी आगे बढ़ रहा है। सेना अत्‍याधुनिक तकनीकों पर स्‍टडी कर रही है।

सेना ड्रोन स्‍वार्म से लेकर रोबोटिक्‍स, लेजर, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और एल्‍गोरिद्म‍िक वॉरफेयर तक शामिल हैं। इस स्‍टडी का मकसद सेना की परंपरागत युद्ध क्षमता को मजबूत करने के साथ-साथ उसे ‘नॉन-काइनेटिक और नॉन-कॉम्‍बैट’ वॉरफेयर के लिए तैयार करना भी है। भविष्‍य को ध्‍यान में रखते हुए चीन भी कई तरह की तकनीकें विकसित कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *