Bulandpur: Sudiksha died in road accident during molestation

बुलंदपुरः छेड़खानी के दौरान सड़क हादसे में सुदीक्षा की मौत, अमेरिका से मिली थी 3.80 करोड़ की स्कॉलरशिप

लखनऊ. बुलंदशहर में अमेरिका से स्वदेश लौटी होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी (19) की मनचलों की छेड़खानी से बचने के दौरान सड़क हादसे में मौत हो गई। गाजियाबाद में भांजी को छेड़खानी से बचाने के दौरान पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या को लोग भूल भी नहीं पाए थे कि बुलंदशहर की घटना से एक बार फिर प्रदेश के अभिभावकों का कलेजा कांप गया है।  पढ़ाई में होनहार सुदीक्षा भाटी ने दो साल पहले ही इंटरमीडिएट की परीक्षा में बुलंदशहर जनपद टॉप किया था। स्कॉलरशिप मिली तो उच्च शिक्षा के लिए अमेरिका चली गईं। मेहनत के बल पर एक शानदार करियर उनके सामने था। लेकिन कुछ मनचले लड़कों की छेड़खानी ने इस प्रतिभा को हमेशा के लिए बुझा दिया।

दरअसल, कोरोना संक्रमण काल में अपने घर लौटीं सुदीक्षा अपने रिश्तेदार के पास जा रही थीं। वह चाचा के साथ बाइक पर बैठी थीं। रास्ते में ही बुलेट सवार कुछ शोहदों ने छेड़खानी शुरू कर दी। फ्लर्ट के दौरान आरोपी युवक बार-बार बाइक को ओवरटेक कर रहे थे। उसी दौरान मनचलों से बचने के चक्कर में गाड़ी गिर गई और सुदीक्षा की मौत हो गई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सुदीक्षा भाटी ने साल 2018 में इंटरमीडिएट में बुलंदशहर जनपद को टॉप किया था। HCL की तरफ से 3 करोड़ 80 लाख रुपये की स्कॉलरशिप दिए जाने के बाद सुदीक्षा भाटी अमेरिका में उच्च शिक्षा ग्रहण करने चली गई थी। सुदीक्षा अमेरिका के बॉब्सन कॉलेज में भारत सरकार के खर्च पर पढ़ रही थी।

सुदीक्षा का परिवार गौतमबुद्धनगर के दादरी क्षेत्र का निवासी है। परिजन के मुताबिक कोरोना की वजह से सुदीक्षा अमेरिका से स्वदेश लौटी थी। वह अपने मामा से मिलने जा रही थी। कुछ दिनों के बाद ही उसे वापस अमेरिका पढ़ाई के लिए लौटना था।

पुलिस ने छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अज्ञात बाइकर्स के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर ली गई है। इस घटना से एक बार फिर कानून-व्यवस्था सवालों के घेरे में आ गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *