new-covid-19-variety-found-in-malaysia-10-times-more-dangerous-than-existing-virus

इस वर्ष के अंत तक भारत को मिल सकता है कोरोना का टीका (Covid-19 vaccine)

नई दिल्‍ली. इस साल के आखिर तक भारत को कोरोना का टीका मिल सकता है। यह दावा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ आदर पूनावाला ने किया है। एक चैनल से बातचीत में उन्‍होंने कहा कि दिसंबर की शुरुआत में कंपनी कोविड-19 वैक्‍सीन (Covid-19 vaccine) लांच कर देगी। वही जायडस कैडिला की वैक्‍सीन का फेज 1 ट्रायल पूरा होने वाला है। कंपनी के चेयरमैन पंकज पटेल ने कहा कि अगले साल मार्च तक वैक्‍सीन लॉन्‍च करने की उम्‍मीद है।

इसी साल आ जाएगी कोरोना की वैक्‍सीन?

सीरम इंस्टीट्यूट ने 7 अगस्‍त को वैक्‍सीन अलायंस Gavi और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ पार्टनरशिप का ऐलान किया था। कंपनी भारत और कम आय वाले देशों के लिए कोविड-19 वैक्‍सीन की 100 मिलियन डोज तैयार कर रही है। पूनावाला ने कहा, “हम दो हफ्ते से भी कम वक्‍त में ट्रायल्‍स शुरू कर देंगे। यह ट्रायल ICMR (इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च) के साथ पार्टनरशिप में हो रहे हैं। हम अगस्‍त के आखिर तक वैक्‍सीन बनाना शुरू करेंगे। पूनावाला पहले ही कह चुके हैं कि उनकी वैक्‍सीन के दाम 3 डॉलर से ज्‍यादा नहीं होंगे।

1000 लोगों पर होगा जायडस कैडिला की वैक्‍सीन का ट्रायल

जायडस कैडिला ने ZyCoV-D नाम से प्‍लाज्मिड डीएनए वैक्‍सीन तैयार की है। कंपनी के चेयरमैन के अनुसार, फेज 1 क्लिनिकल ट्रायल्‍स में वॉलंटियर्स को वैक्‍सीन की डोज दी जा चुकी है। डेटा मॉनिटरिंग बोर्ड ने वैक्‍सीन को इस्‍तेमाल के लिए सुरक्षित पाया है। इसी के आधार पर फेज 2 ट्रायल्‍स शुरू होगा। पटेल के अनुसार, 1,000 वॉलंटियर्स पर ट्रायल किया जाएगा। यह ट्रायल मल्‍टी-सेंट्रिक, रैंडमाइज्‍ड, डबल ब्‍लाइंड प्‍लेसीबो कंट्रोल्‍ड स्‍टडी होगी। फिर यह डेटा रेगुलेटर्स को सबमिट किया जाएगा। कंपनी को उम्‍मीद है कि वह मार्च 2021 तक अपनी वैक्‍सीन बाजार में उतार देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *