PM MOdi give andoman and nikobar internet

PM मोदी ने अंडमान निकोबार को दिया खास तोहफा

समुद्र के नीचे से 2,312 KM केबल बिछाकर पहुंचाया फास्ट-स्पीड इंटरनेट

नई दिल्ली . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक खास तोहफे के साथ ही अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में आज से इंटरनेट के नये युग की शुरुआत की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (सोमवार) 2,312 किलोमीटर लंबे अंडमान निकोबार में चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर को जोड़ने वाली पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी) का उद्घाटन कर दिया है। इस केबल के लगने के बाद यहां हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी होगी, जिससे व्यापार और पयर्टन को बढ़ावा मिलेगा। बता दें कि इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास 20 महीने पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ही किया था। प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए योजना की शुरुआत की।

प्रधानमंत्री ने कहा, चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर, पोर्ट ब्लेयर से लिटिल अंडमान और पोर्ट ब्लेयर से स्वराज द्वीप तक, अंडमान निकोबार के एक बड़े हिस्से में ये सेवा आज से शुरु हो चुकी है। मैं अंडमान-निकोबार के लोगों को अनंत अवसरों से भरी इस कनेक्टिविटी के लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

बताते चलें कि अंडमान निकोबार दुनिया के कई बंदरगाहों से प्रतिस्पर्धी रूप से करीब स्थित है। अंडमान निकोबार में आज जितनी भी आधुनिक ढांचागत सुविधायें तैयार हो रही हैं, वो समुद्री क्षेत्र से जुड़ी अर्थव्यवस्था को भी गति देंगे।

पनडुब्बी ओएफसी लिंक चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर के बीच 2×200 गीगाबिट्स प्रति सेकंड (Gbps) और पोर्ट ब्लेयर और अन्य द्वीपों के बीच 2×100 Gbps की बैंडविड्थ वितरित करेगी। इन द्वीपों में विश्वसनीय, मजबूत और हाई स्पीड दूरसंचार और ब्रॉडबैंड सुविधाओं का प्रावधान उपभोक्ताओं के दृष्टिकोण के साथ-साथ रणनीतिक और शासन कारणों से एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी।

पीएमओ की प्रेस विज्ञिप्ति के अनुसार- 2300 किलोमीटर की इस सबमरीन ओएफसी को बिछाने में 1224 करोड़ रुपये लगे हैं। इससे इंटरनेट की  400 GBPS स्पीड मिलेगी।

अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के भाजपा कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा था कि यह द्वीपसमूह आत्मनिर्भर भारत और नये भारत के विकास और उसकी सुरक्षा में प्रमुख भूमिका निभाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *