Riots in Banglore on Facebook post 2 killed in police firing, 110 arrested

Banglore Violence: Facebook post पर सुलगा बेंगलुरु, कांग्रेस MLA के घर हंगामा

पुलिस फायरिंग में 3 की मौत, 110 गिरफ्तार

बेंगलुरु. कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में मंगलवार रात को एक फेसबुक पोस्ट के कारण बड़ी हिंसा ने जन्म लिया। हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग तक करनी पड़ी, जिसमें 3 लोगों की मौत की सूचना और 110 लोग गिरफ्तार किए गए हैं। बेंगलुरु में भड़की इस हिंसा में एसीपी समेत 100 से ज्यादा पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। घटना बेंगलुरू के डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना इलाके में हुई। दोनों इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है और बैंगलुरू में धारा 144 लगा दी गई है।

बता दें कि कुछ अज्ञात उपद्रवियों ने मंगलवार रात 9 से 9.30 बजे के बीच कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के आवास पर तोड़फोड़ की और आग लगा दी। कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे ने फेसबुक पर कथित भड़काऊ पोस्ट किया था। हालांकि, बाद ये पोस्ट डिलीट भी कर दी गई। बावजूद इसके कथित भड़काऊ पोस्ट को लेकर बड़ी संख्या उपद्रवियों ने विधायक श्रीनिवास मूर्ति के बेंगलुरू स्थिति आवास पर हमला कर दिया और जमकर तोड़फोड़ की। इस दौरान आगजनी भी की गई।

विधायक के घर के बाहर अतिरिक्त बल तैनात कर इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। इधर, दूसरी ओर पुलिस ने मामला दर्ज कर सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने के आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस आयुक्त कमल पंत ने बताया कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाले जाने के बाद डीजे हल्ली इलाके में हुए उपद्रव में एक अतिरिक्त पुलिस आयुक्त समेत करीब 100 पुलिस कर्मचारी घायल हुए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने भीड़ को समझाने का प्रयास किया। उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। पुलिसवालों को जमकर पीटा। हालात बेकाबू होने पर रात 12 बजे के बाद पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी।  रात लगभग 2 बजे स्थितियां काबू हुईं। फायरिंग और गिरफ्तारी के बाद उपद्रवी मौके से भागे।

रात को 3 बजे के बाद ही उच्च अधिकारियों ने शहर में धारा 144 लागू कर दी। डीजे हल्ली और केजी हल्ली दो थानांतर्गत इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया। रात में ही विधायक के भतीजे ने पोस्ट डिलीट कर दी और पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

इसके अलावा विधायक मूर्ति ने एक वीडियो संदेश जारी कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने अपने संदेश में कहा कि कुछ लोगों की गलती के लिए किसी को हिंसा का सहारा नहीं लेना चाहिए। लड़ने की कोई जरूरत नहीं है। हम सभी भाई हैं। दोषी को कानून के अनुसार सजा मिलेगी। हम आप के साथ हैं। मैं सभी से शांत रहने की अपील करता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *